"आप" पर आयकर विभाग का शिकंजा, भेजा 30 करोड़ का नोटिस



दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) को आय कर विभाग ने 30.67 करोड़ रुपये का टैक्स नोटिस थमाया है। इसके साथ ही आय कर विभाग ने आप से पूछा है कि 13 करोड़ की अघोषित संपत्ति के बारे में विभाग को सूचना क्यों नहीं दी। इसके अलावा विभाग ने उन 462 दान दाताओं का रिकॉर्ड नहीं रखने पर भी अरविंद केजरीवाल की पार्टी की खिंचाई की है जिन्होंने करीब 6 करोड़ रुपये दान दिए हैं। आय कर विभाग का नोटिस आप की पांच साल पूरे होने के ठीक अगले दिन आया है। पार्टी ने 26 नवंबर को ही अपनी स्थापना के पांच साल पूरे किए हैं।

हमारा चंदा पवित्र है और ये शत्रुतापूर्ण कार्रवाई है - आप 
आयकर विभाग के नोटिस पर आप ने कहा है कि हमारा चंदा पवित्र है और ये शत्रुतापूर्ण कार्रवाई है.उन्‍होंने कहा कि आयकर का ये नोटिस बोगस और आधारहीन है. पार्टी ने कहा है कि हमारा चंदा पूरी तरह पारदर्शी और पहली बार किसी पाटी के चंदे को गैरकानूनी ठहराया गया है. आयकर विभाग ने 7 दिसंबर को पार्टी से पक्ष रखने को कहा है. आयकर विभाग के नोटिस में आप पर चंदा नियमों के अनुकूल ना होने का आरोप लगाया है.