Top News:

साध्वी प्रज्ञा के बयान पर बोले PM मोदी, मैं उन्हें मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा



राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर दिये गये विवादित बयान पर भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के माफी मांगने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि ''प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा।" खरगोन लोकसभा सीट से पार्टी प्रत्याशी गजेन्द्र पटेल के समर्थन में चुनावी सभा के लिए यहां आये मोदी ने एक चैनल को दिये साक्षात्कार में कहा, ''गांधी के बारे में या गोडसे पर जो भी बातें की गयी। इस प्रकार जो भी बयान दिये गये हैं, ये बहुत ही खराब हैं, खास प्रकार से घृणा के लायक हैं, आलोचना के लायक हैं।"

उन्होंने कहा, ''सभ्य समाज के अंदर इस प्रकार की भाषा नहीं चलती। इस प्रकार की सोच नहीं चल सकती। इसलिये ऐसा करने वालों को सौ बार आगे सोचना पड़ेगा।" मोदी ने कहा, ''दूसरा उन्होंने (प्रज्ञा) माफी मांग ली, अलग बात है। लेकिन मैं अपने मन से माफ नहीं कर पाऊंगा।" इस चैनल के पत्रकार ने मोदी से सवाल किया था कि साध्वी प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे पर बयान दिया और फिर माफी मांगना क्या आपको लगता है कि इस तरह के उम्मीदवार पर पार्टी को अनुशासनात्मक कार्रवाई करना चाहिए?

गौरतलब है कि देवास लोकसभा सीट पर 19 मई को होने वाले चुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशी महेन्द्र सोलंकी के समर्थन में आगर मालवा में रोड शो कर रही प्रज्ञा ने बृहस्पतिवार (16 मई) को एक सवाल के जवाब में स्थानीय न्यूज चैनल से कहा था, ''नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। गोडसे को आतंकी बोलने वाले खुद के गिरेबान में झांक कर देखें। अबकी बार चुनाव में ऐसा बोलने वालों को जवाब दे दिया जाएगा।"

पत्रकार ने प्रज्ञा से सवाल किया था कुछ दिन पहले कमल हासन ने गोडसे को देश का पहला हिन्दू आतंकवादी कहा था, इस पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है। हालांकि इस बयान पर किरकिरी होने के बाद प्रज्ञा ने इस पर माफी मांग ली। मध्यप्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष विजेश लुनावत ने गुरुवार रात एक वीडियो जारी किया जिसमें प्रज्ञा कह रही है, ''यह मेरा निजी बयान था। मैं रोड शो कर रही थी। इस दौरान मुझे भगवा आतंक के बारे में प्रश्न पूछा गया। यह मेरा त्वरित जवाब था क्योंकि मैं रास्ते में थी। मैं किसी की भावना को ठेस नहीं पहुंचाना चाहती थी। मेरे बयान से अगर किसी की भावना को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगती हूं।"

वीडियो में उन्होंने कहा, 'मैं गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूं। गांधी जी ने जो देश के लिए किया है उसे भुलाया नहीं जा सकता है। मैंने टीवी नहीं देखी है, लेकिन जो पार्टी की लाइन है, भाजपा का निष्ठावान कार्यकर्ता होने के नाते मेरी भी वही लाइन है। मैं इस बयान के लिए माफी मांगती हूं।''